गर्भवती महिलाओं का 100 फीसदी पंजीकरण करवाना है जरूरी

रोहतक, 24 नवम्बर : गर्भवती महिलाओं का पंजीकरण दुरुस्त व सौ फीसदी होना चाहिए ताकि पोषण अभियान के तहत समय-समय पर उनकी सही तरीके से जांच करते हुए उनके स्वास्थ्य का ध्यान रखा जा सके। यह बात उपायुक्त कैप्टन मनोज कुमार ने कही। वे आज पोषण अभियान, बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ व प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना के तहत किये जा रहे कार्यों की समीक्षा हेतू आयोजित एक बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। बैठक में अतिरिक्त उपायुक्त महेंद्रपाल, डीपीओ बिमलेश कुमारी, डीडीपीओ नरेंद्र धनखड़, पुलिस विभाग से सुशीला सहित जिला में कार्यरत सभी सीडीपीओ व जिला कोर्डिनेटर उपस्थित रहे। बैठक के दौरान पोषण अभियान की समीक्षा करते हुए कैप्टन मनोज कुमार ने निर्देश दिये कि बच्चों व महिलाओं को उनके शारीरिक स्वास्थ्य की निगरानी व समय-समय पर उनकी वजन की जांच करवाने हेतू प्रेरित करते हुए महिलाओं को विशेष स्तनपान का महत्व भी बताये। उन्होंने डीपीओ को निर्देश दिये कि वे संबंधित विभागों की सहायता लेते हुए कोविड-19 के नियमों की पालना करते हुए स्वास्थ्य जांच शिविर लगाये। उन्होंने इस मौके पर आंगनवाड़ी केंद्रों में शुद्घ पेयजल, स्वच्छ शौचालय आदि उपलब्ध करवाने के निर्देश भी दिये। बैठक में डीपीओ बिमलेश कुमारी ने उपायुक्त को जानकारी देते हुए बताया कि जिला के सौ आंगनवाडी केंद्रों में किचन गार्डनिंग शुरू की जा चुकी है साथ ही विभाग के आंगनवाड़ी कार्यकर्ता घर-घर जाकर लोगों को काविड-19 के प्रति जागरूक करते हुए सामाजिक दूरी बनाए रखने व मास्क पहनने की महत्ता भी लगातार बता रहे है। अतिरिक्त उपायुक्त महेंद्रपाल ने बैठक के दौरान निर्देश दिये कि जिन पंचायतों का लिंग अनुपात बढ़ा है उनकी छटनी करते हुए उन्हें सम्मानित किया जाये। उन्होंने कहा कि जिन घरों में इकलौती बेटी ने जन्म लिया वहां गृह मालिक के नाम के साथ बेटी का नाम भी अंकित किया जाये, ऐसा करने से बेटियों में आगे बढऩे के लिए एक आत्म विश्वास बढेगा और वे समाज में अग्रणी भूमिका निभा पायेगी। उन्होंने कहा कि अवैध तरीके से लिंग जांच करने वालों पर नकेल कसी जाये और ऐसे अनैतिक कार्य करने वाले लोगों के विरुद्घ कार्रवाई करते हुए पुलिस की सहायता से छापेमारी की जाये।इस मौके पर महिला एवं बाल विकास विभाग की जिला कार्यक्रम अधिकारी बिमलेश कुमारी, डिस्ट्रीक्ट कोर्डिनेटर निहारिका एवं मंजू, ब्लॉक स्तर के परियोजना अधिकारी श्रीमती योगेंद्रा, श्रीमती कृष्णा, डिंपल, वैशाली, सुमन, निर्मला तथा अन्य विभागों से डीईईओ कृष्णा फोगाट, डॉ. जीडी शर्मा, डॉ. रेनू, डॉ. शिवानी, उपकार व डॉ. कुलदीप सिंह सहित अन्य संबंधित अधिकारी व कर्मचारी उपस्थित रहे। Tags

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.