HARYANA के प्रति गलत बयानबाजी करने और किसानों को भड़काने के मामले में फंसी कांग्रेस के खिलाफ जमकर बरसी BJP

रोहतक, 18 सितंबर। पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह और कांग्रेस के दूसरे नेताओं द्वारा हरियाणा राज्य और देश की राजधानी नई दिल्ली के प्रति बेहद गलत बयानबाजी करने, भड़काऊ शब्दों का इस्तेमाल करने और भोले भाले किसानों को भड़काने के मामले में घिरी कांग्रेस के खिलाफ भारतीय जनता पार्टी के नेता और कार्यकर्ता शनिवार को कांग्रेस भवन के सामने जमकर बरसे। कांग्रेस भवन के सामने 2 घंटे प्रदर्शन करते हुए भाजपा नेताओं ने कांग्रेस पार्टी को शर्मनाक पार्टी करार दिया और पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह से इस्तीफा मांगा। साथ ही, हरियाणा कांग्रेस के नेताओं को कहा कि पंजाब के मुख्यमंत्री द्वारा दिए बयान पर अपनी स्थिति स्पष्ट करें वरना हरियाणा की जनता उन्हें कभी माफ नहीं करेगी।
शनिवार सुबह 10 से 12 बजे तक भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष व पूर्व सहकारिता मंत्री मनीष कुमार ग्रोवर, चेयरमैन और रोहतक प्रभारी अरविंद यादव, वरिष्ठ नेता शमशेर खरकड़ा, वरिष्ठ नेता सतीश नांदल, पूर्व विधायक नरेश कौशिक, मेयर मनमोहन गोयल, रोहतक जिला अध्यक्ष अजय बंसल, झज्जर जिला अध्यक्ष विक्रम कादियान, वरिष्ठ नेता डॉ राकेश, पूर्व भाजपा जिला अध्यक्ष विजेंद्र दलाल कांग्रेस पर जमकर बरसे। भाजपा नेताओं ने कहा कि तीन कृषि बिल पास होने के बाद किसान संगठनों ने जोरदार तरीके से इनका स्वागत किया था और मीडिया के सामने अपनी स्टेटमेंट भी जारी करते हुए केंद्र सरकार का आभार व्यक्त किया था, लेकिन कांग्रेस ने भोले-भाले किसानों को गुमराह करते हुए देश और प्रदेश में अराजकता का माहौल पैदा करने का षड्यंत्र रचा।

किसान आंदोलन करीब 9 माह से चल रहा है और शुरू से ही इसके पीछे कांग्रेस और कम्युनिस्ट पार्टियों की भूमिका नजर आ रही थी जो कि अब खुद पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने अपने बयानों से स्पष्ट कर दी है। भाजपा नेताओं ने कहा कि कांग्रेस का इतिहास रहा है, देश की 130 करोड़ जनता को गुमराह कैसे किया जाए। पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह को हरियाणा की जनता और नई दिल्ली से माफी मांगते हुए तुरंत प्रभाव से अपने पद से इस्तीफा देना चाहिए। भाजपा नेताओं ने कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि किसानों की कमर तोड़ने का काम कांग्रेस ने किया है। हरियाणा की बात करें तो प्रदेश के किसानों की लाखों एकड़ उपजाऊ जमीन को सस्ते भाव में अधिग्रहण करके रियल एस्टेट के हाथों में सौंपने का काम किया।

फसलों के मुआवजा के 5-5 रुपये के चेक किसानों को बांटकर उनका मजाक उड़ाया। भाजपा नेताओं ने कहा कि पंजाब के मुख्यमंत्री की बयानबाजी बेहद खतरनाक है। हरियाणा के लोग स्वाभिमानी हैं और इस तरह की बयानबाजी को कतई सहन नहीं करेंगे।मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर ने जो कुछ कहा, इससे कांग्रेस का छिपा हुआ एजेंडा सामने आ गया है। कांग्रेस किसानों के कंधे पर बंदूक रखकर हरियाणा का माहौल खराब करना चाहती है, लेकिन प्रदेश का नागरिक कांग्रेस की चाल में बिल्कुल भी नहीं फंसेगा।

पंजाब और राजस्थान से सवाल करें कांग्रेस नेता

पत्रकारों के सवालों का जवाब देते हुए भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष और पूर्व सहकारिता मंत्री मनीष कुमार ग्रोवर ने कहा कि हरियाणा कांग्रेस के नेता अगर किसानों के सच्चे हितैषी हैं तो उन्हें पंजाब और राजस्थान की कांग्रेस सरकारों पर दबाव डालकर किसानों की फसलों को एमएसपी पर खरीद करवानी चाहिए। हरियाणा राज्य में 11 फसलें एमएसपी पर खरीदी जा रही है जबकि इन राज्यों में दो-दो फसलें खरीदी जा रही हैं। हरियाणा देशभर में गन्ने का सर्वाधिक भाव किसानों को दे रहा है। उन्होंने कहा कि पंजाब के मुख्यमंत्री के बयान पर हरियाणा कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कुमारी शैलजा, विपक्ष के नेता भूपेंद्र सिंह हुड्डा और प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला समेत कांग्रेस के दूसरे नेताओं को स्थिति स्पष्ट करनी चाहिए। उन्हें जनता को बताना होगा कि वे मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर के साथ हैं या फिर उनके बयान का विरोध करते हैं। हरियाणा कांग्रेस के नेताओं को तुरंत प्रभाव से हरियाणा की जनता से भी माफी मांगनी चाहिए।

₹6000 सालाना देकर नई शुरुआत की

भाजपा नेताओं ने कहा कि देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने छोटे और मध्यम किसानों को ₹6000 सालाना देकर ऐतिहासिक नींव रखने का काम किया। तीन कृषि बिल पास करने, ब्लैक में मिलने वाली खाद आसानी से उपलब्ध करवाने, किसानों को मिलने वाली सब्सिडी का विस्तार करने, सर्वाधिक फसलें एमएसपी पर खरीदने, फसल मुआवजा प्रति एकड़ हजारों में करने, किसानों की उपजाऊ जमीन का अधिग्रहण नहीं करने, किसानों की आमदनी दोगुनी करने का लक्ष्य रखने जैसे अनेक महत्वपूर्ण कदम उठाए हैं। पहले किसान और खेती को गंभीरता से नहीं लिया जाता था।

कांग्रेस मुर्दाबाद के जमकर लगे नारे

भाजपा नेताओं और कार्यकर्ताओं ने कांग्रेस पार्टी मुर्दाबाद के जमकर नारे लगाए। हाथों में कांग्रेस विरोधी नीतियों के बैनर लिए पहुंचे भाजपा कार्यकर्ताओं ने कांग्रेस को जमकर कोसा। शर्म करो शर्म करो, कांग्रेस मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह इस्तीफा दो-इस्तीफा दो, हरियाणा से माफी मांगो राहुल गांधी और हरियाणा कांग्रेस के नेता माफी मांगों माफी मांगो जैसे स्लोगन वाली पट्टिका लेकर पहुंचे थे। आपका अपना मीडिया प्रभारी तरुण सनी शर्मा रोहतक

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.