MLA कुंडू का सरकार को अल्टीमेटम , 4 दिन में जलनिकासी का बंदोबस्त वरना सड़क पर आकर लड़ूंगा जनता के हकों की लड़ाई

महम, अलख हरियाणा डॉट कॉम 25 सितम्बर || भारी बारिश के चलते दर्जनों गांवों में जलभराव होने की सूचना के बाद शनिवार को विधायक बलराज सिंह कुंडू ने जलभराव की स्थिति का जमीनी स्तर पर जायजा लिया। दर्जनभर गांवों का दौरा करके विधायक कुंडू ने गांवों में गली, मौहल्ले सहित ट्रैक्टर लेकर खेतों के बीचों बीच पानी में जाकर फसलों को बचाने के लिए हर संभव प्रयास करने का आश्वासन दिया। इसकेे अलावा विभिन्न विभागों के आला अधिकारियों से मौके पर खड़े होकर बातचीत करके जलभराव की समस्या को जल्द से जल्द दूर करने के दिशा निर्देश भी दिए।

विधायक कुंडू ने क्षेत्र में हुए जलभराव पर गहरा रोष प्रकट करते हुए कहा कि सरकार महम हलके के साथ भेदभाव करने उतर आई है। लंबे अर्से तक अधिकारियों की नियुक्ति नहीं किया जाना स्थानीय लोगों के साथ साफ तौर पर भेदभाव है। राजनीतिक खुंदक का खामियाजा लोग भुगत रहे हैं, लेकिन महम हलके की जनता स्वाभिमानी एवं अडिग है और सरकार को इसका सदैव मुहंतोड़ जवाब देगी। उन्होंने कहा कि जलभराव की वजह से भैण सूरजन सहित अन्य कई गांवों के हालात बद से बदतर हैं।

हजारों एकड़ फसल बरबाद हो चुकी है जबकि जल्द पानी नहीं निकला तो हजारों एकड़ फसल जलनिकासी नहीं होने की वजह से बरबाद हो जाएगी और किसान गेंहू की बिजाई भी नहीं कर पाएंगे। कुंडू ने कहा कि भाजपा-जजपा सरकार किसानों को बरबाद करने पर तुली हुई है और केवल पूंजीपतियों के हितों को ध्यान में रखा जा रहा है।सरकार महम क्षेत्र प्रदेश भर में हुई जलभराव की स्थिति से निपटने के लिए कोई प्रयास नहीं कर रही।

सरकार किसानों के प्रति पूरी तरह से असंवेदनशील रवैया अपना रही है। विधायक कुंडू चेताया कि प्रदेश का किसान भाजपा-जजपा सरकार को कभी माफ नहीं करेगा और आने वाले समय में इन्हें करारा सबक सिखाएगा। उन्होंने किसान कमेरे का आश्वस्त किया कि वे हर हाल में उनके साथ खड़े हैं। जलभराव की समस्या को दूर करने के लिए सब मिलकर सामूहिक प्रयास करेंगे जिससे जल्द समस्या दूर होगी। विधायक ने शनिवार को हलके के गांव बहलबा, भैणी मातो, भैणी सूरजन, सैमाण, बेडवा, फरमाणा खास व फरमाना बादशाहपुर, बैंसी, लाखनमाजरा आदि समेत करीब एक दर्जन गांवों का दौरा किया और लोगों के साथ पानी में उतरकर जमीनी हकीकत से रूबरू हुए।

इससे पहले उन्होंने महम शहर में व्यापारी पवन तायल की दुकान पर भी पहुंचे और वहां एकत्रित हुए व्यापारी भाइयों को भी आश्वासन दिया कि वे हर वक्त उनके साथ खड़े हैं और भाई पोनी भाई को घबराने की जरूरत नहीं है। उन्होंने कहा कि तमाम व्यापारी एकजुट होकर मजबूत निर्णय लें और वे हर निर्णय पर व्यापारियों के साथ पूरी मजबूती से खड़े हैं। इससे पहले महम कार्यालय पर लोगों की समस्याएं सुनी और उनका मौके पर ही समाधान भी किया। इस मौके पर कई कार्यकर्ता एवं समर्थक मौजूद थे।

बताते चलें कि महम हलके की अन्य समस्याओं सहित जलभराव की समस्या को दूर करने के लिए प्रदेश के मुख्यमंत्री मनोहर लाल व उप मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला को वे व्यक्तिगत रूप से दो बार पत्र भी लिख चुके हैं और विधानसभा में भी जलभराव का मामला मजबूती से उठा चुके हैं। दो बार पत्र लिखने के बाद भी महम हलका के किसानों की समस्या का समाधान करने बारे कोई ठोस कार्रवाई सामने नहीं आई है। मामला विधानसभा तक पहंचा है बावजूद इसके महम हलका भेदभाव का शिकार है।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.