मुख्यमंत्री द्वारा किसानों के लिए ‘लठ’ इस्तेमाल करने वाली भाषा असंवैधानिक: अभय सिंह चौटाला

सिरसा, 4 अक्तूबर: इनेलो के प्रधान महासचिव अभय सिंह चौटाला ने कहा कि लखीमपुर खीरी में केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा के पुत्र द्वारा बदले की भावना से जिस प्रकार किसानों को कुचलकर मार डाला उसके लिए मंत्री का तुरंत इस्तीफा लिया जाना चाहिए और पिता पुत्र के खिलाफएफआईआर दर्ज करके हिरासत में लिया जाना चाहिए ताकि अन्य को सबक हासिल हो।


वे सोमवार को डबवाली रोड स्थित इनेलो के जिला कार्यालय में मीडिया से रूबरू हो रहे थे। लखीमपुर खीरी में निर्दोष किसानों को कुचलकर मारने की घटना की निंदा करते हुए इनेलो नेता ने कहा कि गृह राज्यमंत्री जैसे गरिमामयी पद का अर्थ लोगों को सुरक्षा उपलब्ध करवाना है न कि निर्दोष लोगों की जान लेना। साथ ही उन्होंने मुख्यमंत्री मनोहर लाल के उस बयान की भी तीखी आलोचना की जिसमें वे अपने कार्यकर्ताओं को किसानों के लिए ‘लठ’ इस्तेमाल करने की हिदायत दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि ऐसे बयान मुख्यमंत्री पद पर रहने वाले इंसान को शोभा नहीं देते और ऐसे निंदनीय बयान के लिए हरियाणा के राज्यपाल को उनको तुरंत बर्खास्त करना चाहिए और उनके खिलाफ देशद्रोह का केस दर्ज होना चाहिए। अभय सिंह चौटाला ने कहा कि जिस प्रकार करनाल में किसानों पर बर्बरता करने के लिए तत्कालीन एसडीएम के खिलाफ ज्यूडिशियल इंक्वायरी हो रही है, ठीक उसी प्रकार मुख्यमंत्री के विवादास्पद बयान पर भी ज्यूडिशियल इंक्वायरी होनी चाहिए।


इनेलो नेता ने कहा कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल हरियाणा के भाईचारे को खराब करने का प्रयास कर रहे हैं जिसकी कड़ी निंदा होनी चाहिए। ऐलनाबाद उपचुनाव में भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष ओमप्रकाश धनखड़ द्वारा अभय सिंह चौटाला के लिए चुनौती के मुद्दे पर उन्होंने कहा कि वे भाजपा को लेकर पहले दिन से ही बड़े स्पष्ट हैं। वे किसी भी तरह से भाजपा को चुनौती नहीं मानते क्योंकि भाजपा एक सांप्रदायिक पार्टी है। उन्होंने कहा कि भाजपा प्रदेशाध्यक्ष ओमप्रकाश धनखड़ यदि इस उपचुनाव को एक अवसर में बदलने की बात कहते हैं, यदि वे इसे अवसर मानते हैं तो वे स्वयं ही ऐलनाबाद में आकर चुनाव क्यों नहीं लड़ लेते? उन्होंने कहा कि इस बार तो चुनौती भाजपा जजपा गठबंधन के लिए है क्योंकि इस दल का लोगों द्वारा सामाजिक बहिष्कार किया गया है, ऐसे में ये गांवों में कैसे घुसेंगे, ये चुनौती रहेगी।


उन्होंने कहा कि वे तीन कृषि कानूनों के मुद्दे पर ही अपना उपचुनाव लड़ेंगे क्योंकि इसी मुद्दे पर उन्होंने हरियाणा विधानसभा से अपना इस्तीफा दिया था। उन्होंने कहा कि ये चुनाव मैं नहीं बल्कि ऐलनाबाद की जनता लड़ेगी जिसकी गूंज बीते दिवस चोपटा की रैली में गूंजी थी। इस दौरान उन्होंने हिसार विधान सभा से जेजेपी प्रत्याशी रहे जितेंद्र श्योराण को इनेलो का पटका पहनाकर इनेलो में शामिल किया। इस अवसर पर उनके साथ इनेलो के राष्ट्रीय संगठन सचिव श्याम सिंह राणा व जिला प्रेस प्रवक्ता महावीर शर्मा भी मौजूद थे।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.