चोर दरवाजे से लखीमपुर खीरी मामले में केंद्रीय मंत्री के आरोपी बेटे ने किया सरेंडर

लखनऊ। लखीमपुर हिंसा के सातवें दिन मुख्य आरोपी और केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा के बेटे आशीष ने क्राइम ब्रांच के सामने पेश हुआ। उसे क्राइम ब्रांच का ऑफिस 11:00 बजे बुलाया था लेकिन वह तय समय से करीब 25 मिनट पहले ही पहुंच गया। पुलिस उसे पीछे के दरवाजे से अंदर ले गई।

हालांकि आशीष की गिरफ्तारी होगी या नहीं इस सवाल पर पुलिस अधिकारी बचते नजर आए मौके पर डीआईजी और एसपी भी मौजूद रहे। गौरतलब है कि शुक्रवार को मंत्री के घर पर दोबारा नोटिस चिपका कर शनिवार को पेश होने के लिए बुलाया गया था।

वहीं दूसरी ओर पंजाब के कांग्रेसी अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू ने भी अपना मौन व्रत तोड़ दिया है। वह करीब 20 घंटे से मौन व्रत पर थे। सिद्धू शुक्रवार को लखीमपुर पहुंचे थे। सिद्धू पहले हिंसा में मारे गए किसान और पत्रकार के घर पहुंचे थे। उन्होंने लिखकर कहा था कि जब तक मंत्री का आरोपी बेटा गिरफ्तार नहीं कर लिया जाता तब तक वे मौन व्रत धारण करके भूख हड़ताल पर बैठेंगे। मंत्री के आरोपी बेटे आशीष के क्राइम ब्रांच के दफ्तर पहुंचने के साथ ही सिद्धू ने अपना मौन व्रत तोड़ दिया है

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक 12 से अधिक पेन ड्राइव लेकर पहुंचा है। पेन ड्राइव में वह सभी वीडियो हैं जो उनकी मौजूदगी साबित करेंगे की घटना के वक्त वह कहां था। आशीष से पूछताछ के लिए सवालों के लंबी सूची बनाई गई है जो घटना के वक्त उसकी मौजूदगी का पता लगाएंगे। पूछताछ के बाद आशीष की गिरफ्तारी तय मानी जा रही है। लोगों का दावा है की जिस जीप से किसानों को कुचला था उसके पीछे निकली फॉर्च्यूनर में आशीष बैठा था माना जा रहा है कि यह सबूत सामने आने पर आशीष की मुश्किलें बढ़ सकती हैं।

कहा यह भी जा रहा है कि अजय मिश्रा के पास किसी बड़े नेता ने संदेश भेजा है जिसमें आशीष को पेश होने के लिए कहा है। अजय मिश्रा गुरुवार को दिल्ली में थे। इसके बाद ही वे लखनऊ के लिए रवाना हुए और कहा था कि आशीष शनिवार को पुलिस के सामने पेश होगा और जांच में सहयोग करेगा।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.