भीषण गर्मी से पहले हो बाढड़ा में पेयजल व्यवस्था सुनिश्चित – नैना सिंह चौटाला

चंडीगढ़, 16 मार्च। बाढड़ा हलके से जननायक जनता पार्टी की विधायक नैना सिंह चौटाला ने हरियाणा विधानसभा के बजट सत्र में राज्य सरकार से मांग करते हुए कहा कि भीषण गर्मी मौसम से पहले-पहले बाढड़ा क्षेत्र में पेयजल व्यवस्था सुनिश्चित की जाए ताकि गर्मी में ग्रामीणों को पेयजल किल्लत का सामना ना करना पड़े। नैना चौटाला ने आज विधानसभा में बाढड़ा के विभिन्न गांवों की पेयजल किल्लत की समस्या को जोरशोर से उठाया।

उन्होंने कहा कि पानी की भारी किल्लत होने के बावजूद हलके में जलापूर्ति करने वाली महत्वपूर्ण नहर बधवाना डिस्ट्रीब्यूटरी में पानी आने का अंतराल सात दिन की बजाय 15 दिन कर दिया गया है। विभाग के इस फैसले पर कड़ा विरोध जताते हुए नैना चौटाला ने पुनः सात दिन के अंतराल पर पानी छोड़ने की मांग रखी।

बाढड़ा के पूर्व हलका अध्यक्ष डॉ विजय सांगवान मंदोला क्यों हो गये “आप’ के

https://www.facebook.com/watch/?v=1012502709664588

सदन में जेजेपी विधायक ने कहा कि बाढड़ा विधानसभा क्षेत्र पूर्णत रेतीला क्षेत्र है और यहां भूमिगत जल स्तर भी बहुत नीचे है। उन्होंने कहा कि इसके अलावा यह पानी सेहत के भी लिए भी बहुत खतरनाक है क्योंकि इसके सेवन से शरीर में अनेक बीमारीयां पैदा होती है। नैना चौटाला ने कहा कि क्षेत्र के गांव झोझू, कलाली, बलाली, जावा, बधवाना, चिडिया, मकडानी, मकडाना, छिल्लर, बलकरा, कलियाणा, मंदौला, मंदौली, घसौला, ढाणी फौगाट, टिकाण, पातुवास, महराणा इत्यादि दर्जनों गांव वासी पेयजल की समस्या से जूझ रहे है इसलिए हलके के प्रत्येक गांव के लिए नहर आधारित पेयजल स्कीम बनाई जाए। विधायक नैना चौटाला ने कहा कि गांव में पेयजल आपूर्ति के लिए बोरवेल लगाए गए है लेकिन वर्तमान में ये बोरवेल व्यवस्था भी पूर्णत बिगड़ी हुई है। कहीं गांवों में तो इन बोरवेलों की मोटरें लम्बे समय से जली हुई है तो कहीं बिजली लाइनें इत्यादी खराब है इसलिए जनसमस्याओं को देखते हुए इन बोरवेलों की रिपेयरिंग भी जल्द करवाई जाए ताकि आमजन की अंतरिम राहत मिल सके।

5.56 करोड़ रुपए से खत्म होगी झोझु कलां की पेयजल किल्लत

विधानसभा सत्र में विधायक नैना चौटाला ने गांव झोझु कलां की पेयजल किल्लत की समस्या को भी उठाया। नैना चौटाला ने कहा कि झोझू कलां क्षेत्र का ऐतिहासिक गांव है लेकिन बड़ा दुख का विषय है कि आज भी झोझू कलां में पेयजल सप्लाई की कोई व्यवस्था नहीं है। उन्होंने सरकार से यहां पेयजल समस्या के स्थाई समाधान की मांग की। नैना चौटाला की इस मांग पर संबंधित विभाग के मंत्री ने बताया कि झोझु कलां की पेयजल किल्लत दूर करने के लिए 5 करोड़ 56 लाख रुपए का एस्टीमेट तैयार करवा दिया गया है।

इसके अलावा गांव बधवाना व जावा की पेयजल व्यवस्था भी सुनिश्चित करने के लिए एस्टीमेट तैयार करवा दिया गया है और जल्द ही आवश्यक बजट भी स्वीकृत कर दिया जाएगा और निकट समय में ही झोझू कलां गांव की पेयजल समस्या पूर्णत खत्म हो जाएगी।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.