केंद्र सरकार का पुतला दहन करते हुए कीमते कम करने की मांग की


  alakh haryana
  26 Jun 2020

डीजल-पेट्रोल की कीमतों में  बेहताशा बढ़ोतरी के खिलाफ आज सोनीपत स्टैंड पर  केंद्र सरकार का पुतला दहन करते हुए कीमते कम करने की मांग की गई। पुतला दहन के दौरान केंद्र सरकार की लूट की नीतियों के खिलाफ जमकर नारेबाजी की गई । इसके साथ ही किसानों की समस्याओं को हल न करने पर गहरा रोष प्रकट किया।
प्रेस बयान जारी करते हुए किसान सभा जिला सचिव सुमित व एसएफआई राज्य सचिव सुरेंदर ने संयुक्त रूप से बताया कि आज किसान सभा ,नौजवान सभा ,व एसएफआई ने पेट्रोल डीज़ल के दामों में वृद्धि के खिलाफ रोष प्रकट करते हुए पुतला दहन किया ।आगे उन्होंने कहा कि मोदी सरकार पिछले कई दिनों से लगातार पेट्रोलियम पदार्थों में वृद्धि करके जनता की रोजी-रोटी पर बेरहमी से हमला कर रही है। आज भारत सरकार दुनिया भर में पेट्रोलियम उत्पादों पर सबसे ज्यादा टैक्स वसूल रही है, जिसकी मार करोड़ों देशवासी झेल रहें हैं। तेल बेचने वाली कम्पनियों को अनाप-शनाप मुनाफे कमाने की खुली छूट दी गई है और केन्द्र सरकार मोटा राजस्व बटोर रही है।                                                         
किसान सभा के जिला उपप्रधान कैप्टन शमशेर मालिक  और बलवान सिंह ने कहा कि आज अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतें अपने न्यूनतम स्तर पर है और जनता को मिलने वाले तेल की कीमतें पिछले 18 दिनों में पेट्रोल में 7 रुपये और डीज़ल के 11 रुपये बढ़ने से अपने उच्च्तम स्तर पर पहुँच गई । कीमतों में इस बेतहाशा वृद्धि से किसान के ऊपर भारी बोझ बढ़ रहा जाए  धान की बिजाई चल रही  है जिसके लिए डीज़ल की जरूरत होती है  इसके महंगा होने से लागत बढ़ रही है ।और सरकार कोई धयान न दे किसानों की लूट बढ़ा रही है  सरकार महामारी के समय में लोगों के जीवन को संकट की ओर धकेल रही है। व पूंजीपतियों के मुनाफा बढ़ा रही है।
    विरोध कार्यवाही के पश्चात किसान सभा का भुगतान कि मांगो को लेकर धरना जारी रहा व किसान सभा ने जिला प्रशासन के किसान विरोधी रुख की कड़ी निंदा करते हुए 30 जून को  बड़ा प्रदर्शन करने की चेतावनी दी है ।। आज के धरने को सीटू राज्य प्रधान सतवीर सिंह ,रिटायर्ड कर्मचारी नेता रामकिशन नोनन्द,भवन निर्माण कामगार यूनियन के नेता संजीव ,बिजेंद्र बलियाना  ने समर्थन करते हुए सम्भोदित किया इस मोक्के पर , पीटीआई शिक्षकों का भी समर्थन रहा व एडवोकेट अत्तर हुडा ,सत्यनारायण हुडा ,दलबीर बलियाना, एसएफआई अद्यक्ष विनोद गिल ,अर्जुन ,रिछपाल चिड़ी, खेमचंद,नरेश मलिक,जयकरण घडोठी, रणबीर पाकस्मा,नौजवान सभा के बलजीत ,जीवन सिंह आदि शामिल रहे ।


Vidya Softwares

संबंधित खबरें



0 Comments

एक टिप्पणी छोड़ें

 
2253