प्रशासन हुई गूंगा -बहरा ,किसान प्रदर्शन करने को मजबूर


  alakh haryana
  30 Jun 2020

रोहतक() किसानों की मांगो को हल करवाने  व प्रशासन के असवेंदनसील रुख को लेकर किसान सभा ने उपायुक्त कार्यालय पर जोरदार प्रदर्शन किया प्रदर्शन से पहले छोटु राम धर्मशाला में सभा की गई  ।सभा पश्चात धर्मशाला से उपयुक्त कार्यलय तक शारीरिक दूरी बनाते हुए प्रदर्शन किया ।  एसडीएम को ज्ञापन सौंपा । 
           प्रेस बयान जारी करते हुए किसान सभा जिला सचिव सुमित व जिला उपप्रधान जोगेंद्र बनियानी ने कहा कि  जिला प्रशासन गूंगा और बहरा बना हुआ है इसीलिए किसान हर रोज समस्याओं को हल करवाने के लिए सड़कों पर उतरने को मजबूर है खेती करने वाला आज प्रशासन की लापरवाही के कारण भारी संकट में है ओलावृष्टि बेमौसमी बारिश से धान व गेंहू की  बर्बाद फसलो का मुआवजा बांटने में प्रशासन जानबूझकर देरी कर रहा है फसल नही बची ऊपर मुआवजा न मिलना । नियमों के मुताबिक गन्ने का भुगतान 14 दिन में होना चाहिए पर दो माह से ज्यादा समय बीत जाने के बाद भी भुगतान न होना सरकार के किसान हितेषी नारे को उजागर करता है बिजली के ट्यूबवेल कनेक्शन नही जारी किए जा रहे जिसके लिए किसानों ने विभाग के पास लाखो रुपये जमा करवा रखे है । सरकार की नीतियों के कारण खेती घाटे का सौदा बनती जा रही है किसान कर्ज उठाकर खेती करने को मजबूर है और सरकार किसानो के पैसे पर कुंडली मारकर बैठी है प्रदर्शन में आये सभी किसानों में सरकार के इस रवैये की कड़ी निंदा की ।
      किसान नेताओं उपप्रधान कैप्टन शमशेर मलिक व कोषाध्यक्ष  बलवान सिंह ने कहा कि ये सरकार की जनविरोधी नीतियों का ही परिणाम है कि हर रोज डीज़ल और पेट्रोल की कीमतें बढ़ रही है ,खेती की लागत बढ़ रही है और सरकार किसानों की कर्जा मुक्ति करने की बजाय किसानों को पुनः कर्ज देने के लिए लाखों करोड़ों केदिखावटी पैकेज की घोषणा कर रही है जिससे किसानों का कोई भला नही होने वाला । सरकार किसानों की वास्तविक समस्याओं को हल करने की बजाय कोरोना की आड़ में काले कानून बिजली का निजीकरण ,मंडियों को खत्म करना, व आवश्यक वस्तु अधिनियम में बदलाव करके किसानों को उजाड़ रही है ये सब सरकार की नीतियों का ही परिणाम है जिससे किसान उजड़ रहा है 
किसान सभा ने कहा है कि जब तक ये स्थानीय समस्याएं हल नही हो जाती प्रशासन को चैन से नही बैठने देगी । किसान सभा मुआवजा लेने,ट्यूबवेल कनेक्शन ,गन्ने के भुगतान समेत सभी मांगो को पूरा करवा कर ही दम लेगी । ज्ञापन लेने के बाद एसडीएम मोहदय ने समस्याओं को हल करने का आश्वासन दिया व  जिला उपायुक्त से बात करवाने की भी कही  । इस मोक्के पर दो दर्जन गांव मायना ,करोंथा ,पहरावर, बालंद,बनियानी, बलम, गद्दी खेड़ी,सैमाण बहुअकबरपुर आदि   गांव के  सैकड़ों किसान शामिल रहे ।


Vidya Softwares

संबंधित खबरें



0 Comments

एक टिप्पणी छोड़ें

 
5724