BET और GAT-B की परीक्षा हो रहा हैं विरोध


  alakh haryana
  26 Jun 2020

कोरोना के कहर के चलते भले ही कॉलेज, यूनिवर्सिटी और सीबीएससी की परीक्षाएं स्थगित हो गई हैं, लेकिन रिजिनल सेंटर फ़ॉर बायो टेक्नोलॉजी, RCB अभी भी बायो टेक्नोलॉजी एलिजिबल टेस्ट यानी BET और ग्रेजुएट एप्टीट्यूड टेस्ट - बायो-टेक्नोलॉजी अर्थात GAT-B की परीक्षाएं लेने पर आमादा है। इसका विरोध हरियाणा सहित देश भर में हो रहा है।

स्टूडेंट्स का कहना है कि पूरा देश कोरोना महामारी से ग्रस्त है जिसमें हर कोई अपने आपको असुरक्षित महसूस कर रहा है। भारत सरकार द्वारा भी दिशा-निर्देश दिए गए हैं कि केवल जरूरी काम हो तभी घर से बाहर निकलें। सुप्रीम कोर्ट के दिशा-निर्देशों के आधार पर कुछ शिक्षण संस्थानों ने अपने-अपने पेपर कोरोना महामारी को देखते हुए स्थगित भी कर दिए हैं। परीक्षा आयोजित करने वाली एजेंसी NTA ने भी सारी परीक्षाओं को हालात सामान्य होने तक स्थगित कर रखा है।  दूसरी तरफ RCB छात्र-छात्राओं की परीक्षा ले रहा है और परीक्षा केंद्रों की दूरी भी 100 किलोमीटर से 1,000 किलोमीटर तक की हैं जो कि बहुत अधिक है। दूसरा, परीक्षा केंद्रों तक पहुंचने के लिए ट्रांसपोर्ट सुविधा भी उपलब्ध नहीं है। RCB द्वारा आयोजित परीक्षा के लिए जो परीक्षा केंद्र निर्धारित किए गए हैं वह खुद रेड जॉन में आते हैं, उदाहरण के तौर पर गुरुग्राम जो रेड जॉन में आता है, गुरुग्राम शहर स्वयं रेड जॉन में आता है।
रोहतक निवासी एक अभ्यार्थी ने बताया कि उनका सेंटर दिल्ली में आया है और घर पर सिर्फ एक बाइक ही है जिससे इम्तेहान देने जाया जा सकता है, लेकिन उनका परिवार इस महामारी के दौर में उनसे न जाने की ही कह रहा है। ऐसे दौर में जब प्रतिदिन सैकड़ों लोगो की जान जा रही है तो अभियर्थयो और उनके परिवारों की ज़िन्दगी को खतरे में डालना बहुत गलत है।

आपको बता दें कि RCB ने साल में एक बार ली जाने वाली डिपार्टमेंट ऑफ बायो-टेक्नोलॉजी, यानी DBT की बेट ( BET) और  गेट- बी (GAT-B) की परीक्षाओं की तिथि 30 जून निर्धारित की है जिनके एडमिट कार्ड भी निकाल दिए हैं। स्टूडेंट्स ने परिस्थिति सामान्य होने तक DBT की परीक्षाओं को स्थगित कराने की मांग को लेकर जिला उपायुक्त रोहतक के माध्यम से राष्ट्रपति को ज्ञापन भेजा है।


Vidya Softwares

संबंधित खबरें



0 Comments

एक टिप्पणी छोड़ें

 
5129