रणबीर महेन्द्रा पर दवाओं के फर्जी बिल पास करवा लाखों रूपये ऐंठने का ‘आप’नेता ने लगाया आरोप


  alakh haryana
  22 Feb 2019

चरखी दादरी।। अलख हरियाणा। आम आदमी पार्टी के युवा जिला अध्यक्ष राकेश चांदवास ने प्रेस कॉनफ्रैंस में पूर्व विधायक रणबीर सिंह महेन्द्रा पर लगाए भ्रष्टाचार के आरोप लगाते हुए कहा कि प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री बंसी लाल के बड़े बेटे व बीसीसीआई के पूर्व अध्यक्ष व पूर्व विधायक रणबीर सिंह महेन्द्रा पर मैडिकल सुविधाओं के नाम विधान सभा से फर्जी बिलों के सहारे कई लाख रूपये ऐठनें का आरोप लगाया है। आरटीआई से मिली हुई जानकारी के अनुसार पूर्व विधायक ने अपने व अपनी पत्नी के नाम पर लाखों रूपयों की दवाओं के फर्जी बिल पास करवाए है। इसी आधार पर आरटीआई एक्टीविस्ट राकेश चांदवास ने पूर्व विधायक द्वारा पास कराए गए बिलों को फर्जी बताते हुए लोकायुक्त हरियाणा में शिकायत कर दी है। मीडिया प्रकाशित रिपोर्ट के अनुसार भी महेन्द्रा ने 217 बार क्लेम लिया है।  वहीं राकेश चांदवास ने बताया कि उन्होंने आरटीआई के द्वारा विधानसभा से पास करवाए गए बिलों के माध्यम से जानकारी मिली कि पूर्व विधायक ने अप्रैल 2005 से फरवरी 2018 के मध्य दौरान अपने व अपनी पत्नी के नाम से कई लाख रूपये के फर्जी बिल पास करवाकर सरकार को चुना लगाने का काम किया है। उन्होंने भेजी लोकायुक्त शिकायत में भी लिखा है कि पूर्व विधायक अपनी पत्नी के 2005 से 2018 तक पाए करवाए गए मैडिकल बिलों में यह भी नहीं लिखा कि यह किस बीमारी से पीडित है। बीमारी के दौरान जिन चिकित्सकों से दवाई के बिल पास करवाए गए उनको जांच में शामिल करके सत्यता का पता लगाया जाए। पूर्व विधायक ने विधायकों को मिलने वाली मैडिकल सुविधाओं की आड़ में अपनी जेब भरने का काम किया है। अगर वास्तव में पूर्व विधायक रणबीर सिंह महेन्द्र को कोई बीमारी होती तो गंभीर बीमारी का प्रमाण पत्र विधान सभा में जमा होता। वहीं राकेश चांदवास ने मांग की है कि हरियाणा सरकार में स्वास्थ्य विभाग के डी.जी. के नेतृत्व में एक विशेष टीम गठित करके जांच करवाई जाए क्योंकि जो टैक्स के रूप में जनता का जो पैसा था उसको पूर्व विधायक ने फर्जी बिलों के सहारे डकारने का काम किया है। वहीं विडियो कॉनफ्रैंस में राकेश चांदवास ने यह भी मांग की है कि पूर्व विधायक पर सरकार ने तुरंत प्रभाव से एफआईआर दर्ज करके कार्यवाही करनी चाहिए ताकि सरकार का नारा ‘‘भ्रष्टाचार मुक्त हरियाणा’’ वो भी साकार हो सके। 

Tags

BHIWANI CHARKHI DADRI AAP


Vidya Softwares

संबंधित खबरें



0 Comments

एक टिप्पणी छोड़ें

 
0505