हिसार के छोरे ने देसी जुगाड़ से उडने वाली अनोखी फ्लाइंग मशीन तैयार की!


  Alakh Haryana
  25 Oct 2017

कहते है कुछ कर दिखाने की चाह हो तो इंसान कुछ भी पा सकता है। ऐसा ही कुछ एक हरियाणा के छोरे ने कर दिखाया है। कभी जिंदगी से ना हार मानने की इस छोरे की इच्छा ने इसे प्रदेश के साथ देश में भी मशहूर कर दिया है।

हिसार के गांव ढाणी मोहब्बतपुर निवासी बीटेक के छात्र कुलदीप टाक ने कमाल कर दिया है। 23 वर्षीय कुलदीप ने देसी जुगाड़ से उडने वाली अनोखी फ्लाइंग मशीन तैयार की है, जो 1 लीटर पेट्रोल में करीब 12 मिनट तक आसमान में उड़ती है। इसे पैराग्लाइडिंग फ्लाइंग मशीन या मिनी हैलीकॉप्टर का नाम दिया गया है।

ढाणी मोहब्बतपुर निवासी कुलदीप के पिता प्रहलाद सिंह टाक गांव में खेतीबाड़ी करते है। चंडीगढ़ से बीटेक की पढ़ाई पूरी करने के बाद अब कुलदीप इसी प्रोजेक्ट पर कार्य कर रहा है। जिसमें मदद के लिए आर्यनगर निवासी सतीश कुमार ने भी अपना योगदान दिया।

कुलदीप ने बताया कि मशीन को तैयार करने में करीब अढ़ाई लाख रुपये का खर्च आया है। इस फ्लाइंग मशीन से किसी को खतरा नहीं है। मशीन में बाइक का 200 सीसी इंजन लगाया गया है। इसके अलावा लकड़ी का पंखा लगा हैं। साथ ही साथ छोटे टायर लगाए हैं। ऊपर पैराग्लाइडर लगाया गया है जो उड़ान भरने और सेफ्टी के साथ लैंडिंग करवाने में सहायक है। यह मशीन 10 हजार फीट की ऊंचाई तक उड़ान भरने में सक्षम है। गांव चौधरीवाली से आसपास के गांवों में कुलदीप ने अब तक करीब 2 हजार फीट की ऊंचाई तक उड़ान भरी है। मशीन में ईंधन के रूप में पेट्रोल का प्रयोग किया जाता है। जिसमें 5-6 लीटर का टैंक है।

किसी ने सही कहा है कोशिश करने वालों की हार नहीं होती यहीं कुछ कुलदीप ने कर दिखाया है।

Tags

हरियाणा किसान


Vidya Softwares

संबंधित खबरें



0 Comments

एक टिप्पणी छोड़ें

 
2000